आम्रपाली के प्रोजेक्ट में घर मिलने का इंतजार कर रहे होम बायर्स के लिए खुशखबरी, जानिए क्या है पूरा मामला

Real esate - India TV Paisa
Photo:FILE

Real esate 

Highlights

  • एनारॉक को आम्रपाली के 5,400 फ्लैटों की बिक्री की जिम्मेदारी मिली
  • फ्लैट ​की बिक्री से फंड मिलने से जल्द पूरा हो पाएगा अटके प्रोजेक्ट का काम
  • सरकारी स्वामित्व वाली एनबीसीसी कर रही है अधूरे प्रोजेक्ट का काम पूरा

नई दिल्ली। आम्रपाली के प्रोजेक्ट में घर मिलने का इंतजार कर रहे होम बायर्स के लिए अच्छी खबर है। फंड की कमी से अधूरे प्रोजेक्ट का काम अब जल्द पूरा हो सकेगा। दरअसल, आवास ब्रोकरेज कंपनी एनारॉक को पूर्ववर्ती आम्रपाली समूह के लगभग 5,400 खाली पड़े (अनसोल्ड) फ्लैटों की बिक्री की जिम्मेदारी मिली है। कंपनी ने गुरुवार को कहा कि उसने पिछले एक महीने में 70 करोड़ रुपये की 150 इकाइयों की बिक्री में मदद की है और अगले चार साल में कुल बिक्री बुकिंग 2,200 करोड़ रुपये से अधिक रहने की उम्मीद है। इससे अटके हुए प्रोजेक्ट का काम पूरा करने में मदद मिलेगी। 

एनबीसीसी परियोजनाओं का काम पूरा कर रही 

सरकारी स्वामित्व वाली एनबीसीसी ने उच्चतम न्यायालय की निगरानी में आम्रपाली की रुकी परियोजनाओं एवं निवेश पुनर्गठन प्रतिष्ठान (एस्पायर) के तत्वावधान में नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कई आवासीय परियोजनाओं को पूरा करने का काम किया है। इन अनबिकी इकाइयों की बिक्री से प्राप्त राशि का इस्तेमाल आम्रपाली समूह की रुकी परियोजनाओं को पूरा करने के लिए किया जाएगा। एनारॉक के वाइस चेयरमैन संतोष कुमार ने कहा, हमें पूर्ववर्ती आम्रपाली समूह की परियोजनाओं में लगभग 5,400 खाली घरों की बिक्री की जिम्मेदारी मिली है। मूल्य के संदर्भ में कुल बिक्री बुकिंग लगभग 2,200 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है।

150 इकाइयों की बिक्री पूरी हुई 

संपत्ति सलाहकार ने बयान में कहा, कंपनी ने पहले ही केवल 30 दिन के भीतर 70 करोड़ रुपये में 150 इकाइयों की बिक्री में मदद की है। एनारॉक के अनुसार, आम्रपाली समूह की सभी परियोजनाओं को जून, 2024 तक पूरा किया जाएगा। इन परियोजनाओं की अनुमानित लागत 8,189.82 करोड़ रुपये बैठेगी।