कोरोना का इलाज करेगा एंटीबॉडी कॉकटेल, सरकार ने दी रॉश इंडिया की दवा को मंजूरी

कोरोना का इलाज करेगी...- India TV Paisa
Photo:ROCHE (BRAND OFFICIAL WEBSITE)

कोरोना का इलाज करेगी एंटीबॉडी कॉकटेल, सरकार ने दी रॉश इंडिया की दवा को मंजूरी 

कोरोना संकट से जूझ रहे भारत के लिए अच्छी खबर है। देश में रॉश इंडिया की एंटीबॉडी कॉकटेल यानि दो दवाओं के मिश्रण को इस्तेमाल की अनुमति मिल गई है। कोविड-19 मरीजों के इलाज में करने के लिए इस कॉकटेल ड्रग को सेन्ट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (सीडीएससीओ) से इमर्जेंसी यूज की इजाजत मिल गई है। हालांकि दवा कंपनी रॉश ने इस दवा की कीमत के बारे में फिलहाल खुलासा नहीं किया है। 

बताया जा रहा है कि यह दवा हल्के और मध्यम संक्रमण पर काफी अच्छी तरह से असर कर सकती है। बता दें कि अमेरिका और यूरोप में इस दवा को पहले ही अनुमति मिल गई है। वहां पर इस दवा के काफी बेहतर परिणाम देखने को मिले थे। बताया जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के संक्रमित होने के बाद यही दवा दी गई थी। वे 4 दिनों के भीतर ठीक होकर चुनाव प्रचार में लौट गए थे। 

पढें–  हिंदी समझती है ये वॉशिंग मशीन! आपकी आवाज पर खुद धो देगी कपड़े

पढें–  किसान सम्मान निधि मिलनी हो जाएगी बंद! सरकार ने लिस्ट से इन लोगों को किया बाहर

इन दो एंटीबॉडी का है कॉकटेल 

रॉश इंडिया ने एक बयान में बताया कि भारत में कासिरिविम्ब और इमदेवमब एंटीबॉडी के मिश्रण का इस्तेमाल करने की अनुमति अमेरिका में ईयूए के लिए जमा आंकड़ों व यूरोपीय संघ के मानव पर चिकित्सा उत्पाद के इस्तेमाल की समिति (सीएचएमपी) के वैज्ञानिकों की राय के आधार पर मिली है।कंपनी ने बताया, ‘आपात इस्तेमाल प्राधिकार प्राप्त होने के बाद रॉश इसका वैश्विक उत्पादकों से आयात कर भारत में रणनीतिक साझेदार सिपला के जरिए वितरित कर सकती है।’

पढें–  LPG ग्राहकों को मिल सकते हैं 50 लाख रुपये, जानें कैसे उठा सकते हैं लाभ

पढें–  खुशखबरी! हर साल खाते में आएंगे 1 लाख रुपये, मालामाल कर देगी ये स्कीम

हल्के और मध्यम लक्षणों पर कारगर 

एंटीबॉडी कॉकटेल का इस्तेमाल कोविड-19 के हल्के एवं मध्यम लक्षण वाले मरीजों के उपचार में किया जाता है। इस दवा का इस्तेमाल पहले ही अमेरिका और यूरोप में उन मरीजों के इलाज में हो रहा है जो अस्पताल में भर्ती नहीं हैं। यानि होम क्वारंटीन में रह रहे लोगों को यह दवा फायदा पहुंचा सकती है।