कोरोना संकट के बीच भी यहां लोगों की हो रही मोटी कमाई, 1 महीने में 1 लाख ऐसे बने 1.6 लाख रुपये

शेयर बाजार में...- India TV Paisa
Photo:PTI

शेयर बाजार में रिटर्न

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच अर्थव्यवस्था का लगभग हर कोना दबाव देख रहा है, हालांकि एक जगह ऐसी भी है जहां कमाई करने वालों की कोई कमी नहीं है। कमाई भी इतनी कि सिर्फ एक महीने के अंदर लोगों के एक लाख रुपये बढ़कर 1.5 लाख रुपये से ज्यादा बन गये है। ये जगह है शेयर बाजार।  निवेश के फॉमूले के मुताबिक यहां भी ज्यादा रिटर्न के साथ ज्यादा रिस्क जुड़ा है, लेकिन मार्केट से जुड़े दिग्गजों की माने तो थोड़ा धैर्य, थोड़ी सतर्कता और समझ के साथ शेयर बाजार आपको बेहतर कमाई करा सकता है। पहले जाने बीते एक महीने में कैसा रहा रिटर्न।

1 लाख 1 महीने में बने 1.6 लाख रुपये

बीएसई 500 में शामिल स्टॉक्स में सबसे शानदार प्रदर्शन 62 प्रतिशत के रिटर्न का रहा। एक महीने में स्टील अथॉरिटी का स्टॉक करीब 90 रुपये से बढ़कर 146 रुपये पहुंच गया। यानि एक महीने में जिस शख्स ने सेल में 1 लाख रुपये लगाये होंगे उसकी रकम बढ़कर अब 1.62 लाख रुपये बन चुकी होगी।

बीएसई 500 में शामिल 25 से ज्यादा स्टॉक ने बीते एक महीने में अपने निवेशकों को 30 प्रतिशत से ज्यादा का रिटर्न दिया है। यानि सिर्फ एक महीने में 25 से ज्यादा कंपनियों में निवेशकों का पैसा 1 लाख रुपये बढ़कर 1.30 लाख रुपये से ज्यादा हो गया है। 

क्यों आ रही है शेयर बाजार में तेजी


बाजार के जानकारों की माने तो शेयर बाजार में तेजी के लिए कंपनियों के बेहतर नतीजे, सरकारों के द्वारा रिकवरी के लिए कदम उठाने के संकेत और देश में पूर्ण लॉकडाउन न लगने जैसी बातें बढ़त की मुख्य वजह हैं।  

नुकसान उठाने वाले भी कम नहीं

ऐसा नहीं है कि बाजार में सभी कमाई कर रहे हैं। नुकसान उठाने वाले भी कम नहीं है, हालांकि रिटर्न के मामले में कमाई करने वाले फिलहाल आगे हैं।


एक महीने में 60 प्रतिशत की बढ़त के मुकाबले बीएसई 500 के किसी एक स्टॉक में सबसे ज्यादा नुकसान 23 प्रतिशत का हुआ है। वहीं 25 स्टॉक्स में गिरावट 10 प्रतिशत से 23 प्रतिशत के बीच रही है।

शेयर बाजार में कमाई का क्या है फॉर्मूला

  • बाजार में निवेश को लेकर सैकड़ों थ्योरी मौजूद है लेकिन वॉरेन बफेट और राकेश झुनझुनवाला जैसे दिग्गज निवेशकों की माने तों मजबूत और बढ़ती हुई कंपनी में निवेश हमेशा फायदेमंद होता है। इसके साथ ही सही कीमत पर निवेश करना भी जरूरी होता है।
  • बाजार के जानकार फंडामेंटल एनालिसिस या टेक्निकल ऐनालिसिस या दोनों का इस्तेमाल कर सही कंपनी या सही प्राइस लेवल का पता लगाते हैं। इसकी समझ विकसित होने में सालों लगते हैं, ऐसे में शुरुआती निवेशक बाजार के भरोसेमंद और अनुभवी जानकारों की सलाहों को मान कर निवेश कर सकते हैं। 
  • वहीं बफेट साफ कहते हैं कि निवेशक दूसरे निवेशकों का रिटर्न देख कर निवेश करने की जगह पहले खुद बाजार की समझ विकसित करें। उनके मुताबिक दूसरों को देख कर निवेश करने वाले कीमती समय गंवा देते हैं और उस समय बाजार में उतरते हैं जब शायद बाजार से निकलने का समय बन रहा हो।  
  • दिग्गज निवेशक शुरुआती निवेशकों को ट्रेडिंग से दूर रहने की सलाह देते हैं। उनके मुताबिक ट्रेडिंग में सिर्फ तब उतरना जाहिये जब आपको शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव की अच्छी जानकारी हो।
  • यानि साफ है कि अगर आप शेयर बाजार को गंभीरता से लेते हैं तो संभव है कि किसी दिन आप भी इतने बेहतर रिटर्न दर्ज करें।

यह भी पढ़ें: अपने आधार को बनाएं और सुरक्षित, घर बैठे मिनटों में नंबर करें लॉक या अनलॉक

यह भी पढ़ें: कोरोना संकट के बीच Google Pay यूजर्स के लिए बड़ी खबर, जल्द शुरू हो सकती है ये खास सुविधा