गांवों में कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए टीकाकरण एक मात्र विकल्प: SBI

गांवों में बढ़े...- India TV Paisa
Photo:PTI

गांवों में बढ़े कोरोना के मामले

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के प्रति दिन सामने आ रहे कुल नए मामलों में से लगभग पचास प्रतिशत नए मामले ग्रामीण इलाकों में से आ रहे है जिससे चिंता बढ़ गई है। स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआई) की एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार देश में भीषण रूप से बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने एक मात्र समाधान तेजी से टीकाकरण है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण के कुल नए मामलों में देश में सर्वाधिक प्रभावित 15 जिलों के संक्रमितों का हिस्सा मार्च में 55 प्रतिशत था। इन जिलों का हिस्सा मई में घटकर 26.3 प्रतिशत रह गए है। इसका मतलब है कि कोरोना संक्रमण अब पूरे देश में फैल गया है। 

एसबीआई समूह के मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष ने कहा कि सबसे ज्यादा चिंताजनक बात यह है कि मई में 48.5 प्रतिशत कोरोना संक्रमण के नए मामले ग्रामीण इलाकों से रहे। जबकि मार्च के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के मामले 36.8 प्रतिशत थे। उन्होंने कहा, ‘‘वर्तमान में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार को रोकने का एक मात्र विकल्प बड़े पैमाने पर टीकाकरण करना है। कोरोना संक्रमण से रिकवरी लोगों के जल्द से जल्द बाहर निकलने पर निर्भर करती है। ऐसा तभी संभव है जब बड़ी संख्या में लोगों को टीका लगाया जाएगा। कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए एक बार हम फिर टीकाकरण पर जोर देते हैं।’’ घोष ने कहा, ‘‘अबतक 16.5 करोड़ लोगों को पहला टीका लगा गया है। जिसमे से 13.1 करोड़ लोगों को पहला और 3.5 करोड़ लोगों की दूसरा टीका लग चुका हैं। दूसरा टीका लगवाने वाली लोगों संख्या घटकर 19.5 प्रतिशत हो गई है। वही अप्रैल में जहां प्रतिदिन 28 लोगों को कोरोना का टीका लग रहा था अब केवल 17 लाख लोगों को प्रतिदिन कोरोना का टीका लग रहा है।’’ उन्होंने कहा यदि हम इसी गति से चले तो हम अक्टूबर तक केवल 15 प्रतिशत आबादी को ही टीका लगा पाएंगे जबकि हर्ड इम्युनिटी के लिए सितंबर तक 55 लाख लोगों को प्रतिदिन टीका लगाने की जरुरत हैं। 

देश में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 4,14,188 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 2,14,91,598 हो गए जबकि देश में 36 लाख से अधिक मरीज अब भी इस बीमारी की चपेट में हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 3,915 लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 2,34,083 हो गई है। 

यह भी पढ़ें: देश के इस हिस्से में पेट्रोल 102 रुपये प्रति लीटर के पार, जानिये कहां मिल रहा सबसे महंगा तेल