टूरिस्ट गाइड को मदद से लेकर मुफ्त वीजा तक, टूरिज्म सेक्टर के लिये राहत का ऐलान

टूरिज्म सेक्टर के...- India TV Paisa
Photo:PTI

टूरिज्म सेक्टर के लिये राहत पैकेज

नई दिल्ली। सरकार ने कोविड-19 महामारी से प्रभावित पर्यटन क्षेत्र को उबारने के लिए कई उपायों की घोषणा की है। महामारी की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान टूरिज्म सेक्टर को हुआ है। लॉकडाउन और लोगो की आवाजाही पर रोक की वजह से बीते साल मार्च से टूरिज्म गतिविधियां बंद हैं, जिन्हें अब धीरे धीरे खोला जा रहा है। जानिये आज वित्त मंत्री ने टूरिज्म सेक्टर के लिये क्या ऐलान किये हैं।

  

टूरिज्म सेक्टर के लिये बड़े ऐलान

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को इन उपायों की घोषणा करते हुए 11,000 पंजीकृत पर्यटक गाइड, यात्रा एवं पर्यटन क्षेत्र के अंशधारकों को वित्तीय समर्थन देने का ऐलान किया। 
  • सरकार ने भारत आने वाले पांच लाख पर्यटकों को मुफ्त वीजा देने का फैसला किया है। वित्त मंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय यात्रा के लिए वीजा फिर शुरू होने के बाद पहले पांच लाख पर्यटकों को नि:शुल्क वीजा जारी किया जाएगा। इससे सरकार पर 100 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। यह योजना 31 मार्च, 2022 या पांच लाख वीजा का लक्ष्य पूरा होने तक, जो भी पहले हो, जारी रहेगी। वित्त मंत्री ने कहा कि इससे छोटी अवधि के लिए भारत आने वाले पर्यटक उत्साहित होंगे। 
  • सरकार ने अपनी देनदारियों को निपटाने या महामारी से प्रभावित कारोबार को फिर शुरू करने के लिए पर्यटन क्षेत्र के लोगों को कार्यशील पूंजी या व्यक्तिगत ऋण उपलब्ध कराने की भी घोषणा की। यात्रा और पर्यटन क्षेत्र के अंशधारको को 10 लाख रुपये तक कर्ज 100 प्रतिशत गारंटी के साथ उपलब्ध कराया जाएगा। 
  • पंजीकृत टूरिस्ट गाइड को एक लाख रुपये का कर्ज उपलब्ध कराया जाएगा। पर्यटन मंत्री और राज्य सरकारों द्वारा मान्यता प्राप्त कुल 10,700 क्षेत्रीय स्तर के पर्यटक गाइड इस योजना से लाभान्वित होंगे।
  • दरअसल पर्यटन क्षेत्र भारत में काफी महत्वपूर्ण है। यह रोजगार और स्?वरोजगार पैदा करता है। कोरोना संकट के बीच वित्तीय सहायता टूरिस्ट गाइड्स और दूसरे स्टेक होल्डर्स के लिए की गई है। इससे कार्यशील पूंजी मिलेगी और साथ ही व्यक्तिगत कर्ज में भी लाभ मिलेगा। यह योजना एक प्रकार से देनदारियों को चुकाने के लिए लाई गई है। इसके साथ ही नया कारोबार शुरू करने में भी यह योजना मदद करेगी। वित्त मंत्री द्वारा सोमवार को आर्थिक पुनरुद्धार के लिए कई उपायों की घोषणा की गई। इन्हीं के तहत पर्यटन क्षेत्र के लिए भी उपाय किए गए हैं। 

यह भी पढ़ें: 6.28 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का हुआ ऐलान, टूरिज्म सेक्टर और छोटे कारोबारियों को मिलेगी राहत

यह भी पढ़ें: कोविड प्रभावित क्षेत्रों के लिये 1.1 लाख करोड़ रुपये की लोन गारंटी योजना का ऐलान