दिसंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर हुई 1.22 प्रतिशत, एलएंडटी को घरेलू बाजार में मिले कई ऑर्डर

December wholesale inflation slows to 1.22 pc- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

December wholesale inflation slows to 1.22 pc

नई दिल्‍ली। थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति दिसंबर, 2020 में घटकर 1.22 प्रतिशत पर आ गई है। खाद्य वस्तुओं के दाम घटने से थोक मुद्रास्फीति घटी है। गुरुवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। नवंबर, 2020 में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मद्रास्फीति 1.55 प्रतिशत पर थी। दिसंबर, 2019 में यह 2.76 प्रतिशत पर थी।

उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार डब्ल्यूपीआई खाद्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति की दर नवंबर, 2020 में 4.27 प्रतिशत पर थी, जो दिसंबर में घटकर 0.92 प्रतिशत रह गई। उल्लेखनीय है कि दिसंबर में खुदरा मुद्रास्फीति भी घटकर 4.59 प्रतिशत पर आ गई है। मुख्य रूप से खाद्य वस्तुओं के दाम घटने से खुदरा मुद्रास्फीति नीचे आई है।

एलएंडटी को घरेलू बाजार में कई ऑर्डर मिले

बुनियादी ढांचा क्षेत्र की कंपनी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) की निर्माण इकाई को विभिन्न कारोबारी खंडों में घरेलू बाजार से कई ऑर्डर मिले हैं। हालांकि, कंपनी ने इन अनुबंधों के मूल्य का खुलासा नहीं किया है। कंपनी को मिले ऑर्डर उल्लेखनीय श्रेणी के हैं। अनुबंधों के वर्गीकरण के अनुसार इस तरह इन ऑर्डर का मूल्य करीब 1,000 करोड़ रुपये से 2,500 करोड़ रुपये है।

शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि उसकी निर्माण इकाई को विभिन्न कारोबारी खंडों में प्रतिष्ठित ग्राहकों से उल्लेखनीय ऑर्डर मिले हैं। कंपनी ने कहा कि उसके भवन और कारखाना कारोबार को एक डेवलपर से मुंबई में कार्यालय स्थल के निर्माण का ठेका मिला है। इसके अलावा उसे हरियाणा सरकार से जींद में मेडिकल कॉलेज के निर्माण का अनुबंध मिला है। कंपनी ने कहा कि इसके तहत उसे अस्पताल के भवन, अकादमी ब्लॉक और आवासीय भवन का निर्माण करना है। इसमें निर्मित क्षेत्र 15.63 लाख वर्ग फुट होगा। साथ ही कंपनी की रेलवे रणनीतिक कारोबार इकाई को रेलवे विद्युतीकरण केंद्रीय संगठन (कोर) से इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण (ईपीसी) का ऑर्डर मिला है।