भारत का बांग्लादेश को 10 डीजल इंजन का तोहफा, संपर्क और संबंध बेहतर करने के लिए कदम

- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Indian railways exports 10 diesel locomotives to Bangladesh

नई दिल्ली। भारतीय रेल ने आज बांग्लादेश को 10 डीजल इंजन सौंप दिए हैं। पड़ोसी देशों के साथ संबंध और संपर्क बेहतर करने की कड़ी में ये ब्रॉडगेज डीजल इंजन सौपें गए है। रेल मंत्री पीयूष गोयल और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए इन इंजन को हरी झंडी दिखा कर बांग्लादेश के लिए रवाना किया। इन इंजनों को पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में स्थित गेडे स्टेशन से बांग्लादेश के दर्शना रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया गया। इस समारोह में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बांग्लादेश के विदेश मंत्री और रेल मंत्री के साथ दोनो देशों के रेल बोर्ड के चेयरमैन और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। 

बांग्लादेश ने इन इंजनों की खरीद के लिए प्रस्ताव पिछले साल अप्रैल में भेजा था। भारतीय रेलवे के मुताबिक इन इंजन का कंट्रोल सिस्टम माइक्रो प्रोसेसर आधारित है, इससे इंजन ड्राइवर को काम के दौरान काफी मदद मिलेगी, ये इंजन 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ सकते है। इतनी तेज रफ्तार पर आधुनिक तकनीक की मदद से इंजन को नियंत्रित रखना ड्राइवर के लिए काफी आसान होगा। इन इंजन की मदद से यात्रियों का सफर काफी सुरक्षित हो जाएगा। रेलवे के मुताबिक इन इंजन का रखरखाव और देख भाल काफी आसान काम है, इन इंजन को बांग्लादेश के रेल नियमों के हिसाब से अपडेट भी किया गया है, जिसमें रेल इंजन की अधिकतम ऊंचाई सीमा भी शामिल है।

इस अवसर पर भारतीय रेलवे ने कहा कि वो बांग्लादेश रेलवे को अन्य उपकरण भी मुहैया कराने के लिए उत्सुक है। भारतीय रेलवे ने जोर दिया कि इस तरह के सहयोग से दोनो देशों की रेलवे के संबंधों को और मजबूती मिलेगी। इससे पहले 2016-17 में भारतीय रेलवे ने बांग्लादेश को 120 पैसेंजर कोच भी दिए थे।