महामारी के बीच गेहूं की 81 प्रतिशत और दलहन, तिलहन की करीब 100 प्रतिशत कटाई पूरी : सरकार

गेहूं की कटाई 81...- India TV Paisa
Photo:PTI

गेहूं की कटाई 81 प्रतिशत पूरी

नई दिल्ली। सरकार ने रविवार को कहा कि देश में गेहूं बुवाई के क्षेत्र में से अब तक 81 प्रतिशत से अधिक में कटाई हो चुकी है। वहीं कोविड महामारी के बीच दलहनों तथा तिलहनों की कटाई का काम पूरा हो गया है। किसान 2020-21 के फसल वर्ष (जुलाई-जून) में रबी यानी सर्दियों में बोई गई फसल की कटाई कर रहे हैं। गेहूं रबी की प्रमुख फसल है। कृषि मंत्रालय ने फसल कटाई के ताजा आंकड़े जारी करते हुए कहा, ‘‘सक्रियता के साथ उठाये गये कदमों की वजह से रबी फसलों की कटाई समय पर हो रही है। साथ ही इनकी समय पर खरीद भी सुनिश्चित हो रही है जिससे किसानों को लाभ मिल सके।’’ 

बयान में कहा गया है कि मौजूदा महामारी के बीच किसान और कृषि श्रमिक सभी तरह की प्रतिकूल परिस्थितियों में काम कर रहे हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि लोगों के घर तक अनाज पहुंच सके। मंत्रालय ने बताया कि गेहूं के मामले में 315.80 लाख हेक्टेयर के कुल बुवाई क्षेत्र में से 81.55 प्रतिशत की कटाई पूरी हो चुकी है। राजस्थान में गेहूं फसल की कटाई करीब 99 प्रतिशत पूरी हो गई है। वहीं मध्य प्रदेश में 96 प्रतिशत, उत्तर प्रदेश में 80 प्रतिशत, हरियाणा में 65 प्रतिशत और पंजाब और 60 प्रतिशत कटाई पूरी हुई है। 

बयान में कहा गया है कि हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में कटाई का काम जोरशोर से चल रहा है। इसके अप्रैल, 2021 अंत तक पूरा होने की उम्मीद है। दलहन की बुवाई 158.10 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में की गई है। मंत्रालय ने कहा कि चना, मसूर, उड़द, मूंग और मटर की कटाई पूरी हो चुकी है। गन्ने का कुल बुवाई क्षेत्रफल 48.2 लाख हेक्टेयर है। छत्तीसगढ़, कर्नाटक और तेलंगाना में इसकी कटाई पूरी हो गई है। बिहार, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में 98 प्रतिशत तक कटाई पूरी हुई है। वहीं उत्तर प्रदेश में यह 84 प्रतिशत पूरी हुई है।

उत्तर प्रदेश में कटाई मई मध्य तक चलेगी। धान की बुवाई 45.2 लाख हेक्टेयर में हुई है। इसमें से 18.73 लाख हेक्टेयर में कटाई पूरी हो गई है। आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु में रबी धान की कटाई लगभग पूरी हो गई है। तिलहन फसलों में रेपसीड, सरसों की कटाई राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, झारखंड, गुजरात, छत्तीसगढ़, ओडिशा और असम में पूरी हो गई है। हरियाणा में 99.95 प्रतिशत, पंजाब में 77 प्रतिशत कटाई पूरी हुई है। मूंगफली की बुवाई 7.4 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में हुई है। इसमें से 62 प्रतिशत से अधिक कटाई पूरी हो गई है।