वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा से फिर संकट में रेस्टोरेंट कारोबारी, दिल्ली सरकार के फैसले पर छलका दर्द

वीकेंड कर्फ्यू की...- India TV Paisa
Photo:PTI

वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा से फिर संकट में रेस्टोरेंट कारोबारी, दिल्ली सरकार के फैसले पर छलका दर्द 

नयी दिल्ली। भारतीय राष्ट्रीय रेस्तरां संघ (एनआरएआई) ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसे स्थिति की गंभीरता का अंदाजा है और वह दिल्ली सरकार के फैसले को स्वीकार करता है, लेकिन इससे क्षेत्र का कारोबार बुरी तरह प्रभावित होगा। एनआरएआई ने कहा कि इससे रेस्तरां कारोबार एक बार फिर महामारी के दौर वाले निम्न स्तर पर चला जाएगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को सप्ताहांत कर्फ्यू तथा मॉल, जिम और आडिटोरियम को 30 अप्रैल तक बंद करने की घोषणा की है। 

रेस्तरांओं में ग्राहकों को बैठाकर खाना खिलाने की अनुमति नहीं होगी। हालांकि, पका खाना पैक कर घर ले जाने जैसी सेवाओं की अनुमति दी गई है। एनआरएआई के अध्यक्ष अनुराग कटरियार ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम स्थिति की गंभीरता को समझते हैं। हमारे पास इस फैसले को स्वीकार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। लेकिन इससे हमारा कारोबार उसी स्तर पर आ जाएगा, जो पिछले दिनों जब महामारी चरम पर थी उस दौरान था।’’ 

उन्होंने कहा कि रेस्तरां के कारोबार में पैक कर आपूर्ति का हिस्सा सिर्फ 10 से 12 प्रतिशत होता है। कोरोना वायरस प्रसार को रोकने के लिये दिल्ली में 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक रात्रि कफ्र्यू पहले से लागू है। 

पढें–  किसान सम्मान निधि मिलनी हो जाएगी बंद! सरकार ने लिस्ट से इन लोगों को किया बाहर

पढें–  Aadhaar के बिना हो जाएंगे ये काम, सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर जरूरत को किया खत्म

पढें–  बैंक के OTP के नाम हो रहा है फ्रॉड, खाली हो सकता है अकाउंट, ऐसे रहे सावधान