सरकार ने कर अनुपालन के लिए समय-सीमा बढ़ाई, वित्त वर्ष 2019-20 का ITR कर सकेंगे 31 मई तक फाइल

Govt extends timelines for tax compliance, ITR for FY20 can be filed till May 31- India TV Paisa
Photo:PTI

Govt extends timelines for tax compliance, ITR for FY20 can be filed till May 31

नई दिल्‍ली। सरकार ने शनिवार को विभिन्न आयकर अनुपालनों के लिए समयसीमा को 31 मई तक बढ़ा दिया है, जिसके तहत वित्त वर्ष 2019-20 के लिए विलंबित या संशोधित रिटर्न दाखिल करना शामिल है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने कहा कि उसे अनुपालन आवश्यकताओं में छूट के लिए विभिन्न हितधारकों से अनुरोध मिले थे। सरकार ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुए प्रतिकूल हालात और देश भर में करदाताओं, कर सलाहकारों और अन्य हितधारकों से मिले कई अनुरोधों के मद्देनजर सरकार ने विभिन्न अनुपालन तिथियों की समयसीमा बढ़ाई है।

सीबीडीटी ने कहा कि आकलन वर्ष 2020-21 के लिए अधिनियम की धारा 139 की उपधारा चार के तहत विलंबित रिटर्न दाखिल करने, उपधारा पांच के तहत संशोधित रिटर्न दाखिल करने की तारीख पहले 31 मार्च 2021 थी, जिसे बढ़ाकर 31 मई 2021 कर दिया गया है। इसी तरह अधिनियम की धारा 148 के तहत नोटिस के जवाब में आयकर रिटर्न अब नोटिस में दिए गए समय या 31 मई 2021 तक दाखिल किया जा सकेगा।

विवाद समाधान पैनल (डीआरपी) पर आपत्तियां दर्ज करने और आयुक्त के समक्ष अपील दायर करने की तारीख को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। नानगिया एंड सीओ एलएलपी के पार्टनर शैलेश कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा आयकरदाताओं को दी गई छूट से उन्हें काफी राहत मिलेगी, हालांकि यदि अगले दो हफ्तों में कोविड की स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो सरकार को इन समयसीमाओं को आगे और बढ़ाना होगा।

भीम यूपीआई पर लेनदेन मामूली गिररावट के साथ 4.94 लाख करोड़ रुपये रह गया

भीम यूपीआई के जरिये इस वर्ष अप्रैल में डिजिटल लेनदेन पिछले माह की तुलना में 2.2 प्रतिशत घटकर 4.94 लाख करोड़ रुपये रह गया है। एनपीसीआई के आंकड़ों में शनिवार को यह जानकारी दी गई है। मार्च 2021 में यह डिजिटल लेनदेन 5.05 लाख करोड़ रुपये का हुआ था।

अप्रैल महीने के दौरान लेनदेन की कुल संख्या 2.64 अरब थी, जो मार्च महीने के 2.73 अरब लेनदेन से 3.3 प्रतिशत कम है। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) देश में सभी खुदरा भुगतान प्रणाली का एक अग्रणी निकाय है।

कोरोना के साथ GST राजस्‍व संग्रह ने बनाया एक नया रिकॉर्ड, छुआ अबतक का सबसे ऊंचा आंकड़ा

चारों ओर से आ रही बुरी खबरों के बीच आई ये अच्‍छी खबर….

जनवरी-मार्च तिमाही में मुकेश अंबानी की कंपनी का मुनाफा सुनेंगे तो चौंक जाएंगे आप

Covid-19 के बढ़ते मामलों के बीच मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला…

कोरोना की दूसरी लहर के बीच सरकार ने अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों पर लिया ये फैसला…