सेंसेक्स में 269 अंक की बढ़त, निफ्टी 11,200 के स्तर से ऊपर बंद

stock market today- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

stock market today

नई दिल्ली। विदेशी बाजारों से मिले बेहतर संकेतों और RIL में जारी रिकॉर्ड तेजी की मदद से घरेलू शेयर बाजार में एक दिन की सुस्ती के बाद एक बार फिर बढ़त देखने को मिली है। गुरुवार के कारोबार में सेंसेक्स 269 अंक की बढ़त के साथ 38,140 के स्तर पर और निफ्टी 83 अंक की बढ़त के साथ 11,215 के स्तर पर बंद हुआ है। कारोबार के दौरान आईटी सेक्टर को अलावा बाकी सभी प्रमुख इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी एनर्जी सेक्टर में रही। एनर्जी सेक्टर में रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्टॉक सबसे ज्यादा 3.59 फीसदी की बढ़त के साथ 2076 के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया।  

यूरोपियन मार्केट में आज फिलहाल बढ़त का रुख है, वहीं एशियाई बाजार के संकेत आज मिले जुले रहे। यूरोपियन बाजारों में तेजी यूनिलीवर सहित कई अन्य बड़ी कंपनियों के अनुमान से बेहतर नतीजों के बाद देखने को मिली। बेहतर आय के संकेतों से बाजार के ऊपर से चीन और अमेरिका के बीच जारी तनाव का असर भी कम हुआ। घरेलू शेयर बाजार के बंद होते वक्त यूरोपियन बाजार में बढ़त थी, जिसमें लंदन के बाजार सबसे ज्यादा बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। इस दौरान यूके के FTSE 100 में 0.7 फीसदी, जर्मनी के DAX में 0.63 फीसदी और फ्रांस के CAC 40 में 0.62 फीसदी की बढत देखने को मिली थी। वहीं हॉन्ग कॉन्ग का हेंग सेंग 0.82 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ। दूसरी तरफ जापान का निक्केई 0.58 फीसदी, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.24 फीसदी और ताइवान का TSEC 50 इंडेक्स 0.48 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ।  

विदेशी कंपनियों के बेहतर नतीजों से संकेत मिले हैं कि तिमाही के खत्म होते होते कारोबार कोरोना के संकट से बाहर निकलने लगा है, जिससे भारत बाजारों के निवेशकों ने भी मजबूत कंपनियों के शेयरों में खरीद की।      आज के कारोबार में NSE पर आईटी सेक्टर को छोड़कर बाकी सभी प्रमुख सेक्टर इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए हैं। आईटी सेक्टर इंडेक्स में भी 0.18 फीसदी की सीमित गिरावट रही। दूसरी तरफ एनर्जी सेक्टर इंडेक्स 1.53 फीसदी, फार्मा सेक्टर इंडेक्स 1.44 फीसदी, रियल्टी सेक्टर इंडेक्स 1.41 फीसदी, ऑटो सेक्टर इंडेक्स 1.35 फीसदी और सरकारी बैंको का इंडेक्स 1.23 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ। बैंकिंग और मेटल सेक्टर इंडेक्स करीब 0.8 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुए।