सेंसेक्स में 486 अंक की गिरावट, निफ्टी 15750 के स्तर से नीचे हुआ बंद

शेयर बाजार में...- India TV Paisa
Photo:PTI

शेयर बाजार में गिरावट

नई दिल्ली। मेटल सेक्टर और दिग्गज शेयरों में बिकवाली से शेयर बाजार में आज गिरावट देखने को मिली है। गुरुवार के कारोबार में सेंसेक्स 486 अंक की गिरावट के साथ 52569 के स्तर पर और निफ्टी 152 अंक की गिरावट के साथ 15728 के स्तर पर बंद हुआ है। आज के कारोबार में आईटी सेक्टर को छोड़कर बाकी सभी सेक्टर इंडेक्स में गिरावट देखने को मिली है। सबसे ज्यादा नुकसान में मेटल सेक्टर रहे हैं। 

कैसा रहा कारोबार

विदेशी बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बाद शेयर बाजार की शुरुआत सुस्त रही थी, हालांकि कारोबार के साथ प्रमुख इंडेक्स में गिरावट लगातार बढ़ती गयी। आज के कारोबार में सेंसेक्स ने 52429 का दिन का निचला स्तर दर्ज किया, जो कि पिछले बंद स्तर के मुकाबले 625 अंक नीचे है। सेंसेक्स ने 6 तारीख को ही 53129 का अब तक का सबसे ऊंचा स्तर दर्ज किया है। कारोबार में चौतरफा गिरावट देखने को मिली आईटी सेक्टर को छोड़कर बाकी सभी सेक्टर इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए। मेटल सेक्टर इंडेक्स में 2 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली। वहीं सरकारी बैंकों का इंडेक्स करीब 2 प्रतिशत टूटा। बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज, फार्म सेक्टर एक से डेढ़ प्रतिशत के बीच गिरकर बंद हुए हैं। आज सिर्फ आईटी सेक्टर हरे निशान में रहा, हालांकि उसकी बढ़त मामूली ही थी। 

कैसा रहा स्टॉक्स का प्रदर्शन


निफ्टी में शामिल 43 स्टॉक्स आज गिरावट के साथ बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा बढ़ने वाले स्टॉक्स में सिर्फ टेक महिंद्रा में 1 प्रतिशत से ज्यादा की बढ़त रही है, स्टॉक 1.39 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ। वहीं एसबीआई लाइफ 0.89 प्रतिशत, आयशर मोटर्स 0.78 प्रतिशत बढ़कर बंद हुआ। दूसरी तरफ गिरने वाले स्टॉक्स में 18 स्टॉक एक प्रतिशत से ज्यादा के नुकसान के साथ बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा गिरने वालों में टाटा मोटर्स 3.45 प्रतिशत, जेएसडब्लू स्टील 3.13 प्रतिशत और हिंडाल्को 2.74 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ। दिग्गज स्टॉक्स में रिलायंस इंडस्ट्रीज 0.87 प्रतिशत, टीसीएस 0.62 प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक 1.18 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ है। 

यह भी पढ़ें: पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस में लगा अपर सर्किट, जानिये कैसी रही बाजार का शुरुआत

यह भी पढ़ें: पेट्रोल और डीजल कीमतों में फिर बढ़त, जानिये आज कहां पहुंची कीमतें