सेंसेक्स 500 अंक तक लुढ़कने के बाद अब फिर हरे निशान में पहुंचा, निफ्टी भी 17,250 के पार निकला

sensex- India TV Paisa
Photo:FILE

sensex

Highlights

  • 540 अंकों से अधिक गिर कर खुला था सेंसेक्स
  • निफ्टी भी 154.50 अंक की कमजोरी के साथ खुला था
  • ब्रेंट क्रूड वायदा 121.33 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया

नई दिल्ली। कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच बैंकिंग एवं वित्तीय शेयरों में हुई बिकवाली की वजह से घरेलू शेयर बाजार बीएसई का सूचकांक सेंसेक्स गुूरुवार को शुरुआती कारोबार में ही 540 अंकों से अधिक गिर गया। तीस शेयरों का सूचकांक सेंसेक्स 546. 31 अंकों की गिरावट के साथ 57,138.51 अंक पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 154.50 अंक की कमजोरी के साथ 17,091.15 अंक पर आ गया था। हालांकि, 11 बजे तक फिर सेंसेक्स और निफ्टी हरे निशान में कारोबार कर रहा है। सेंसेक्स 74 अंक की तेजी के साथ 57,759 अंक पर और निफ्टी 23 अंक की तेजी के साथ 17,269 अंक पर है। 

सेंसेक्स में शामिल इन कंपनियों में तेजी 

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से कोटक महिंद्रा बैंक, टाइटन, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस और एक्सिस बैंक के शेयरों को शुरुआती कारोबार में नुकसान उठाना पड़ा। वहीं डॉ रेड्डीज लेबोरेट्रीज, आईटीसी, टीसीएस और टाटा स्टील के शेयर फायदे में रहे। जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, “बाजार अपनी दिशा गंवाता हुआ नजर आ रहा है। अब यह कच्चे तेल, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के प्रवाह और फेडरल रिजर्व की बैठक से जुड़ी हर दिन की खबरों से प्रभावित होकर ऊपर-नीचे हो रहा है।” पिछले कारोबारी दिवस बुधवार को भी बाजार गिरावट पर रहे थे। सेंसेक्स 304.48 अंक गिरकर 57,684.82 अंक पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 69.85 अंकों की गिरावट के साथ 17,245.65 अंक पर रहा था। 

वैश्विक बाजार में भी गिरावट 

एशिया के अन्य बाजारों में टोक्यो, सोल और शंघाई दोपहर के कारोबार में नुकसान के साथ कारोबार कर रहे थे। हालांकि हांगकांग का बाजार हल्की बढ़त पर रहा। अमेरिकी बाजार बुधवार को नकारात्मक रहे थे। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड बढ़त के साथ 120. 88 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को भारतीय बाजार में 481.33 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की शुद्ध खरीदारी की। 

रुपये में डॉलर के मुकाबले हल्की बढ़त 

कच्चे तेल के दामों में मजबूती रहने से गुरुवार को शुरुआती कारोबार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले करीबी दायरे में ही रहा। अंतर-बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये की शुरुआत 76.37 के भाव पर हुई। फिर यह 76.35 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर भी गया लेकिन जल्द ही इसने 76.41 रुपया प्रति डॉलर का स्तर भी छू लिया। पिछले कारोबारी दिवस पर बुधवार को रुपया 76.39 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर बंद हुआ था। अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 121.33 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।