4 लाख से ज्‍यादा परिवारों को मिला मकान का मालिकाना हक, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा 26 हजार करोड़ का फायदा

PM Modi distributed e-property cards under SWAMITVA scheme, Centre decided to provide free ration ov- India TV Paisa
Photo:PTI

PM Modi distributed e-property cards under SWAMITVA scheme, Centre decided to provide free ration over 80 crore people 

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से देश के 409945 ग्रामीण परिवारों को स्वामित्व योजना के अंतर्गत ई-प्रॉपर्टी कार्ड दे कर उन्हें उनके मकान का मालिकाना हक प्रदान किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने स्वामित्व योजना को पूरे देश में लागू किए जाने का शुभारंभ भी किया। प्रधानमंत्री जी ने राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार विजेता पंचायतों के बैंक खाते में बटन दबाकर सीधे पुरस्कार की धनराशि भी अंतरित की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कोविड-19 की इस प्रतिकूलता में कोई भी परिवार भूखा ना सोए, गरीब से गरीब का भी चूल्हा जले, ये भी हमारी जिम्मेदारी है।

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मुफ्त राशन देने की योजना को फिर से आगे बढ़ाया है। मई और जून के महीने में देश के हर गरीब को मुफ्त राशन मिलेगा। इसका लाभ 80 करोड़ से ज्यादा देशवासियों को होगा। इस पर केंद्र सरकार 26 हजार करोड़ रुपए से अधिक खर्च करेगी।

प्रधानमंत्री ने स्वामित्व योजना में अब तक हुए कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि स्वामित्व योजना गांव और गरीब के आत्मविश्वास को, आपसी विश्वास को और विकास को नई गति देने वाली है। आज गांव और गरीब को उसके घर का कानूनी दस्तावेज देने वाली यह अहम योजना पूरे देश में लागू की गई है। प्रधानमंत्री ने अब तक गांवों में कारोना के प्रसार को रोकने में पंचायतों की भूमिका की प्रशंसा भी की। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि एक साल पहले जब हम पंचायती राज दिवस पर मिले थे, तब पूरा देश कोरोना से मुकाबला कर रहा था। तब मैंने आपसे आग्रह किया था कि आप कोरोना को गांव में पहुंचने से रोकने में अपनी भूमिका निभाएं। आप सभी ने बड़ी कुशलता से, ना सिर्फ कोरोना को गांवों में पहुंचने से रोका, बल्कि गांव में जागरूकता पहुंचाने में भी बहुत बड़ी भूमिका निभाई। इस वर्ष भी हमारे सामने जो चुनौती है, वो चुनौती पहले से जरा ज्यादा है कि गांवों तक इस संक्रमण को किसी भी हालत में पहुंचने नहीं देना है, उसे रोकना ही है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पंचायतों को डिजिटल बनाने के लिए हर गांव को फाइबर नेट से जोड़ने का काम भी तेजी से चल रहा है। आज हर घर को शुद्ध जल देने के लिए चल रही जल जीवन मिशन जैसी बड़ी योजना की जिम्मेदारी पंचायतों को ही सौंपी गई है। आज गांव में रोजगार से लेकर गरीब को पक्का घर देने तक का जो व्यापक अभियान केंद्र सरकार चला रही है, वो ग्राम पंचायतों के माध्यम से ही आगे बढ़ रहा है।

इस अवसर पर केंद्रीय पंचायती राज, ग्रामीण विकास,  कृषि एवं किसान कल्याण और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि विगत 7 वर्षों से हमेशा माननीय प्रधानमंत्री जी का राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर देशभर के पंचायत प्रतिनिधियों को मार्गदर्शन प्राप्त हुआ है। 24 अप्रैल पर पंचायती राज दिवस का आयोजन वर्चुअल हुआ हो अथवा सभागार में हमेशा प्रधानमंत्री जी ने उपस्थित होकर हम सभी का उत्साहवर्धन किया है। केद्रीय मंत्री श्री तोमर ने बताया कि देशभर में 5 करोड़ 70 लाख लोगों ने कार्यक्रम को ऑनलाइन देखने के लिए पंजीकरण कराया है।

इमरान खान ने कोरोन संकट से जूझ रहे भारत के लिए कही ये बात…

इन देशों ने भारत से आने-जाने वाली सभी उड़ानों पर लगाया प्रतिबंध…

चारों तरफ से आ रही बुरी खबरों के बीच आई हफ्ते की पहली अच्‍छी खबर…

SBI कोरोना के बीच लेकर आया ग्राहकों के लिए खुशखबरी…

खुशखबरी: covid-19 के ईलाज के लिए मिली नई दवा, DGCI ने दी इस्‍तेमाल की मंजूरी