Health Insurance होगा महंगा, अगले महीने से इतना ज्यादा चुकाना होगा आपको प्रीमियम

Health Insuracne - India TV Paisa
Photo:FILE

Health Insuracne 

Highlights

  • प्रीमियम में 15% से 20 फीसदी की बढ़ोतरी की तैयारी में कंपनियां
  • कोरोना महामारी के बाद बीमा कंपनियों पर क्लेम का बोझ बढ़ा
  • ऐसे में प्रीमियम बढ़ाना बीमा कंपनियों की मजबूरी होगी

Health Insurance का प्रीमियम अगले महीने से अधिक चुकाना पड़ सकता है। दरअसल, कोरोना के बाद बढ़े क्लेम बोझ से उबरने के लिए कंपनियों ने प्रीमियम में बढ़ोतरी का फैसला किया है। उद्योग सूत्रों का कहना है कि अगले महीने से हेल्थ इंश्योरेंस मुहैया कराने वाली कंपनियों ने प्रीमियम में 15% से 20 फीसदी की बढ़ोतरी का फैसला किया है। यानी अगर आप 15,000 रुपये का प्रीमियम भरते हैं तो आपको प्रीमियक की किश्त आने पर 18,000 रुपये तक भुगतान करना होगा। सूत्रों ने बताया कि कई कंपनियों ने व्यक्तिगत पॉलिसी के लिए प्रीमियम में बढ़ोतरी कर दी है। 

इन कंपनियों ने प्रीमियम में बढ़ोतरी की 

हाल के दिनों में अस्पताल खर्च में बढ़ोतरी के बाद मणिपाल सिग्ना प्रोहेल्थ और स्टार हेल्थ एंड एलाइड इंश्योरेंस ने व्यक्तिगत पॉलिसी की कीमत में बढ़ोतरी कर दी है। दोनों कंपनियों ने हेल्थ इंश्योरेंस के प्रीमियम में क्रमश: 14 फीसदी और 15 फीसदी की बढ़ोतरी की है। गौरतबल है कि कोरोना के बाद से इलाज का खर्च तेजी से बढ़ा है। इससे कंपनियों पर वित्तीय बोझ है। वह इसकी भरपाई के लिए प्रीमियम में बढ़ोतरी कर रही हैं। 

कोरोना के बाद क्लेम का बोझ बढ़ा 

हेल्थ इंश्योरेंस मुहैया कराने वाली कंपनियों का कहना है कि कोरोना महामारी के बाद क्लेम का बोझ बढ़ा है। बीमा कंपनियों के पास 15 हजार करोड़ रुपये के भारी भरकम दावे आए हैं। वहीं, दूसरी ओर मेडिकल के क्षेत्र में लागत 18-20 प्रतिशत बढ़ा है। इन वजहों से कंपनियों पर भार बढ़ा है। ऐसे में प्रीमियम बढ़ाना बीमा कंपनियों की मजबूरी होगी। अगर मेडिकल इन्फ्लेशन यान इलाज का महंगा खर्च की बात करें तो एशियाई देशों में सबसे अधिक भारत में है। भारत में मेडिकल इन्फ्लेशन की दर 14 फीसदी है। वहीं, चीन में यह 12 फीसदी और इंडो​नेशिया में 10 फीसदी है।