Indigo Paints का IPO खुलेगा 20 जनवरी को, कंपनी ने तय किया प्रति शेयर 1488-1490 रुपये का मूल्‍य दायर

Indigo Paints IPO to open on Jan 20; sets price band at Rs 1,488-1,490 a share- India TV Paisa
Photo:INDIGOPAINTS@TWITTER

Indigo Paints IPO to open on Jan 20; sets price band at Rs 1,488-1,490 a share

नई दिल्‍ली। इंडिगो पेंट्स (Indigo Paints) ने गुरुवार को अपने प्रारंभिक शेयर बिक्री (IPO) के लिए मूल्‍य दायरा 1488 से 1490 रुपये प्रति शेयर तय किया है। कंपनी का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम 20 जनवरी को खुलेगा। कंपनी इस आईपीओ में 300 करोड़ रुपये मूल्‍य के नए शेयरों की बिक्री करेगी। प्राइवेट इक्विटी फर्म Sequoia Capital और कंपनी के प्रमोटर हेमंत जालान द्वारा ऑफर फॉर सेल के माध्‍यम से 58,40,000 शेयरों की बिक्री पेशकश की जाएगी।  

इंडिगो पेंट्स ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया कि तीन दिन तक चलने वाली आईपीओ बिक्री 22 जनवरी को बंद होगी। एंकर निवेशकों के लिए आईपीओ की बिक्री 19 जनवरी को शुरू होगी। मूल्‍य दायरे के ऊपरी स्‍तर पर आईपीओ से कंपनी को 1170.16 करोड़ रुपये मिलने की उम्‍मीद है। कंपनी 300 करोड़ रुपये नए शेयर बिक्री से और 870.16 करोड़ रुपये ऑफर फॉर सेल के जरिये जुटाएगी। एक लॉट 10 शेयरों का होगा। निवेशकों को कम से कम एक लॉट के लिए बोली लगानी होगी।

आईपीओ का आधा हिस्‍सा पात्र संस्‍थागत निवेशकों के लिए आरक्षित है। 35 प्रतिशत हिस्‍सा रिटेल निवेशकों और 15 प्रतिशत हिस्‍सा गैर-संस्‍थागत निवेशकों के लिए आरक्षित किया गया है। 70,000 शेयर कर्मचारियों के लिए आरक्षित किए गए हैं और उन्‍हें यह शेयर ऑफर प्राइस पर 148 रुपये प्रति शेयर के डिस्‍काउंट पर उपलब्‍ध कराया जाएगा।  

आईपीओ से प्राप्‍त राशि का उपयोग कंपनी अपने तमिलनाडु के पोदुकोट्टई स्थित अपने विनिर्माण संयंत्र के विस्‍तार, टिनटिंग मशीन और गायरो शेकर्स को खरीदने एवं उधारी चुकाने में किया जाएगा। इंडिगो देश की टॉप-5 पेंट कंपनियों में से एक है, जिसका कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। कंपनी अपने पेंट्स Indigo ब्रांडनेम से ही बेचती है। इसका डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क 27 राज्यों और 7 केंद्रशासित प्रदेशों में फैला है। पूर्व इंडियन क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी इसके ब्रांड अंबेसडर हैं।

पुणे की यह कंपनी डेकोरेटिव पेंट्स की पूरी श्रृंखला का निर्माण करती है। 30 सितंबर, 2020 तक उपलब्‍ध सूचना के मुताकि कंपनी के पास तीन विनिर्माण संयंत्र हैं जो राजस्‍थान, केरल और तमिलनाडु में स्थित हैं।