LIC IPO को निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया, सिर्फ 90 मिनट में करीब 20 फीसदी सब्सक्राइब हुआ आईपीओ

LIC IPO- India TV Paisa
Photo:FILE

LIC IPO

Highlights

  • ग्रे मार्केट में LIC IPO पर 90 रुपया प्रीमियम चल रहा है
  • देश के दस एनालिस्ट्स ने निवेशकों को इसे सब्सक्राइब करने की सलाह दी है
  • एलआईसी आईपीओ का 10% हिस्सा कंपनी के मौजूदा पॉलिसीधारकों के लिए आरक्षित

LIC IPO को निवेशकों ने हाथों-हाथ ले लिया है। बुधवार को आईपीओ खुलते ही निवेशकों की होड़ देखने को मिल रही है। इसके चलते सिर्फ 90 मिनट में करीब 20 फीसदी आईपीओ सब्सक्राइब हो चुका है। सरकार की ओर से एलआईसी के आईपीओ में 16,20,78,067 शेयर बिक्री के लिए रखे गए हैं और जिनमें से 11:30 बजे तक 3,01,74,540 शेयरों के लिए बोली मिल चुकी है। विशेषज्ञों का कहना है कि जिस रफ्तार से आईपीओ भर रहा है उसमें कोई शक नहीं है कि यह अंतिम तारीख तक कई गुना भरेगा। उल्लेखनीय है कि इस आईपीओ में रिटेल निवेशक 4 से लेकर 9 मई तक निवेश कर सकते हैं। 

1300 रुपये से लेकर 1400 रुपये पर लिस्टिंग की उम्मीद 

इंडिया इंफोलाइन सिक्योरिटीज (IIFL Securities) के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने इंडिया टीवी को बताया कि एलआईसी का आईपीओ शेयर बाजार में 1300 रुपये से लेकर 1400 रुपये तक लिस्ट कर सकता है। यानी निवेशकों को लिस्टिंग गेन के तौर पर 400 रुपये का मुनाफा हो सकता है। वहीं, लंबी अवधि में निवेशकों का शानदार मुनाफा हो सकता है। 

निवेशकों को लंबी अवधि में बंपर मुनाफा संभव 

एलआईसी के आईपीओ का प्राइस बैंड की ऊपरी सीमा 949 रुपये है जो इसकी एंबेडेड वैल्यू का 1.1 गुना है। यानी दूसरी प्राइवेट जीवन बीमा कंपनियों के एवरेज वैल्यूएशन मुकाबले 65 फीसदी सस्ता है। HDFC Life Insurance का शेयर एंबेडेड वैल्यू के 4.1 गुना कीमत पर ट्रेडिंग कर रहा है। इसी तरह SBI Life का शेयर एंबेडेड वैल्यू 2.9 गुना कर रहा है। ऐसे में विशेषज्ञों का कहना है कि यह आईपीओ लंबी अवधि में बंपर मुनाफा कमा कर दे सकता है। 

देश का सबसे बड़ा आईपीओ 

सरकार की पहले एलआईसी में पांच फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना थी लेकिन इसे घटाकर 3.5 फीसदी कर दिया गया है। आकार घटाए जाने के बावजूद यह देश की सबसे बड़ा आईपीओ है। इससे पहले पेटीएम का आईपीओ सबसे बड़ा था। पेटीएम ने 18,300 करोड़ रुपये का आईपीओ पिछले साल आया था। वहीं, दुनिया में इस महीने आने वाले आईपीओ में यह पांचवां बड़ा आईपीओ है। जिस तरह से निवेशकों का रुझान इसमें मिल रहा है उससे पता चलता है कि आईपीओ को अच्छी सफलता मिलेगी।