Maruti Suzuki ने 4 और शहरों में शुरू की व्‍हीकल सब्‍सक्रिप्‍शन सर्विस, बिना खरीदे नए वाहन का बने मालिक

Maruti Suzuki launches vehicle subscription services in 4 more cities- India TV Paisa
Photo:MARUTI SUZUKI

Maruti Suzuki launches vehicle subscription services in 4 more cities

नई दिल्‍ली। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने अपनी कारों को किराये पर देने की योजना को चार और शहरों जयपुर, इंदौर, मेंगलूर और मैसूर में शुरू करने की घोषणा सोमवार को की है। इस तरह कंपनी की ‘मारुति सुजुकी सब्सक्राइब’ योजना अब 19 शहरों में शुरू हो चुकी है।

कंपनी ने कहा है कि उसने अपनी इस सेवा के लिए मार्केटप्लेस मॉडल भी शुरू किया है। इसमें कई भागीदारों के जरिये प्रतिस्पर्धी दरों पर कार सब्‍सक्रिप्‍शन उत्पादों की पेशकश की जा सकेगी। कंपनी ने इसके लिए तीन भागीदारों ओरिक्स ऑटो इन्फ्रास्क्ट्रक्चर सर्विसेज लि. (ओरिक्स), एएलडी ऑटोमोटिव इंडिया (एएलडी ऑटोमोटिव) और माइल्स ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजीज के साथ करार किया है।

कंपनी ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि उसकी सब्सक्राइब योजना अब चार और शहरों में शुरू हो गई है। इस तरह अब यह योजना 19 शहरों में पहुंच चुकी है। मारुति सुजुकी के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक (विपणन एवं बिक्री) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि कार सब्सक्रिप्शन योजना भारतीय बाजार के लिए नई अवधारणा है। हम लगातार अपने इस कार्यक्रम को अपग्रेड कर रहे हैं। हमने इस कार्यक्रम के तहत चार और शहर जोड़े हैं, जिससे हम अधिक ग्राहकों को सेवाएं दे सकेंगे।

मारुति सुजुकी ने सब्सक्राइब योजना पिछले साल जुलाई में शुरू की थी। इसके तहत ग्राहक कंपनी के विभिन्न वाहन जैसे वैगन आर, स्विफ्ट, डिजायर, विटारा ब्रेजा, अर्टिगा, मारुति सुजुकी एरिना और इग्निस, बालेनो, सियाज, एस-क्रॉस और एक्सएल 6 नेक्सा से सब्सक्राइब कर सकते हैं। इस योजना के तहत ग्राहकों को वाहन खरीदने की जरूरत नहीं होती। वे मासिक शुल्क का भुगतान कर वाहन इस्तेमाल कर सकते हैं। इस मासिक शुल्क में वाहन प्रयोग शुल्क, पंजीकरण शुल्क, रखरखाव, बीमा और अन्य साझा सेवाएं शामिल हैं। इस योजना की अवधि पूरी होने के बाद ग्राहकों के पास नई कार लेने या किराये पर ली गई कार को खरीदने का विकल्प होता है। 

यह भी पढ़ें: Covid-19 की तीसरी लहर से पहले भारत में लॉन्‍च हुई प्रभावी दवा, कीमत है इतनी

जुलाई 2021 से डीए और डीआर का किया जाएगा भुगतान, वित्‍त मंत्रालय ने दिया ये बयान

यह भी पढ़ें: राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद हर महीने देते हैं इतना टैक्‍स, जानिए कितनी मिलती है सैलरी

यह भी पढ़ें: जुलाई में 15 दिन रहेंगे बैंक बंद, जानिए कब और कहां रहेगा अवकाश