Reliance ने ​निवेशकों को कराया सबसे तगड़ा नुकसान, इन 8 कंपनियों में ही इन्वेस्टर के डूबे 2.48 लाख करोड़

BSe- India TV Paisa
Photo:FILE

BSe

Highlights

  • भारती एयरटेल की 11,533.26 करोड़ रुपये के नुकसान हुआ
  • हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 10,514.42 करोड़ बढ़ी
  • शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस पहले स्थान पर कायम रही

Reliance Industries ने निवेशकोंं को सबसे तगड़ा नुकसान कराया है। दरअसल, बीते हफ्ते बाजार टूटने से रिलांयस के निवेशकों को सबसे अधिक नुकसान उठाना पड़ा। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 2,041.96 अंक या 3.72 प्रतिशत टूटा। इस कारण सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में 2,48,372.97 करोड़ रुपये की गिरावट आई। इस दौरान सबसे अधिक नुकसान रिलायंस इंडस्ट्रीज को उठाना पड़ा। सप्ताह के दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), एचडीएफसी और भारती एयरटेल का बाजार मूल्यांकन घट गया। 

HUL और कोटक महिंद्रा बैंक का पूंजीकरण बढ़ा 

वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर और कोटक महिंद्रा बैंक का बाजार पूंजीकरण चढ़ गया। समीक्षाधीन सप्ताह में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 1,30,627.7 करोड़ रुपये घटकर 16,42,568.98 करोड़ रुपये रह गया। एसबीआई के बाजार पूंजीकरण में 35,073.72 करोड़ रुपये की गिरावट आई और यह 3,97,189.84 करोड़ रुपये पर आ गया। आईसीआईसीआई बैंक का बाजार मूल्यांकन 29,279.72 करोड़ रुपये टूटकर 4,70,856.80 करोड़ रुपये पर और इन्फोसिस का 16,869.36 करोड़ रुपये के नुकसान से 6,32,432.92 करोड़ रुपये पर आ गया। 

HDFC Bank ने फिर दिया निवेशकों को झटका 

एचडीएफसी बैंक की बाजार हैसियत 14,427.28 करोड़ रुपये घटकर 7,16,641.13 करोड़ रुपये पर और भारती एयरटेल की 11,533.26 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ 3,78,620.36 करोड़ रुपये पर आ गई। टीसीएस का बाजार मूल्यांकन 7,153.45 करोड़ रुपये घटकर 12,48,998.89 करोड़ रुपये पर और एचडीएफसी का 3,408.48 करोड़ रुपये के नुकसान से 3,86,636.58 करोड़ रुपये पर आ गया। इस रुख के उलट हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 10,514.42 करोड़ रुपये बढ़कर 5,15,582.56 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। कोटक महिंद्रा बैंक का बाजार मूल्यांकन 1,231.33 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 3,53,200.33 करोड़ रुपये रहा। 

टूटने के बाद भी रिलायंस शीर्ष पर कायम 

शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एचडीएफसी, भारती एयरटेल और कोटक महिंद्रा बैंक का स्थान रहा।