RTGS सर्विस को लेकर RBI ने किया अलर्ट, 17 अप्रैल की रात से 14 घंटे तक देशभर में बंद रहेंगी सेवाएं

RTGS सर्विस को लेकर RBI ने...- India TV Paisa

RTGS सर्विस को लेकर RBI ने किया अलर्ट, 17 अप्रैल की रात से 14 घंटे तक देशभर में बंद रहेंगी सेवाएं

नई दिल्‍ली। यदि आप भी बैंक की रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट(RTGS) सेवाओं का उपयोग करते हैं तो रिजर्व बैंक का ताजा अलर्ट आप ही के लिए है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने आज ​ट्वीट कर सूचित किया है कि दो लाख रुपये से अधिक राशि भेजने के लिए उपयोग होने वाली RTGS (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) सर्विस शनिवार 17 अप्रैल की मध्य रात्रि से 14 घंटे के लिए उपलब्ध नहीं होगी। ग्राहक 18 अप्रैल की दोपहर 2 बजे के बाद ही इस सेवा का उपयोग कर सकते हैं। केंद्रीय बैंक ने कहा कि आरटीजीएस सिस्‍टम के डिजास्टर रिकवरी समय को और बेहतर बनाने के लिए इसका टेक्‍नीकल अपग्रेडेशन किया जा रहा है, इसलिए यह सर्विस 14 घंटे के अनुपलब्‍ध रहेगी।

https://twitter.com/RBI/status/1382553238868664326

केंद्रीय बैंक ने ग्राहकों को असुविधा से बचाने के लिए कहा है कि 2 लाख रुपये तक के लेन-देन के लिए उपयोग होने वाले लोकप्रिय नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (NEFT) पहले की तरह काम करता रहेगा। रिजर्व बैंक ने सोमवार को कहा कि 17 अप्रैल 2021 को कारोबार की समाप्ति के बाद, आरटीजीएस प्रणाली की क्षमता को बेहतर बनाने तथा डिजास्टर रिकवरी (आपदा सुधार) समय को और बेहतर बनाने के लिए आरटीजीएस को तकनीकी रूप से उन्नत किया जाएगा। बयान के अनुसार अत: आरटीजीएस सेवा 17 अप्रैल 2021, को 00:00 बजे (शनिवार रात) से अगले दिन 18 अप्रैल 14.00 बजे (रविवार तक) तक उपलब्ध नहीं होगी।

पढें–  हिंदी समझती है ये वॉशिंग मशीन! आपकी आवाज पर खुद धो देगी कपड़े

पढें–  किसान सम्मान निधि मिलनी हो जाएगी बंद! सरकार ने लिस्ट से इन लोगों को किया बाहर

आरबीआई ने कहा कि सदस्य बैंक अपने ग्राहकों को इसके अनुसार अपने भुगतान संचालन की योजना के लिए सूचित कर सकते हैं। आरटीजीएस सुविधा पिछले साल 14 दिसंबर से 24 घंटे उपलब्ध है। इसके साथ भारत उन गिने-चुने देशों में शामिल है, जहां यह सुविधा 24 घंटे काम करती है। 

पढें–  LPG ग्राहकों को मिल सकते हैं 50 लाख रुपये, जानें कैसे उठा सकते हैं लाभ

पढें–  खुशखबरी! हर साल खाते में आएंगे 1 लाख रुपये, मालामाल कर देगी ये स्कीम

DBS बैंक ने सर्वर हैक होने पर दिया बयान

डीबीएस बैंक ने बुधवार को कहा कि उसके सिस्टम से किसी तरह की कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है। हैकर ने जो संदेश लीक किये है उनमें कोई व्यक्तिगत अथवा संवेदनशील सूचना नहीं है। डीबीएस बैंक ने एक बयान जारी कर यह स्पष्टीकरण दिया है। बैंक का यह स्पष्टीकरण तब आया जब हैकर्स ने उसके लेनदेन संबंधी संदेश का एक नमूना लीक किया। यह संदेश कथित तौर पर बैंक के कम्युनिकेशंस एंटरप्राइजिज कंपनी रूट मोबाइल के सिस्टम से लिया गया। इस संदेश में डीबीएस बैंक से संबंधित कुछ ब्यौरा था। 

पढें–  Aadhaar के बिना हो जाएंगे ये काम, सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर जरूरत को किया खत्म

पढें–  बैंक के OTP के नाम हो रहा है फ्रॉड, खाली हो सकता है अकाउंट, ऐसे रहे सावधान

बैंक ने बयान में कहा, ‘‘डीबीएस बैंक के सिस्टम के साथ किसी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। बैंक अपने ग्राहकों से जुड़ी जानकारी की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है और वह कई स्तरीय सुरक्षा कवच को अपनाता है।’’ बैंक ने कहा, ‘‘हम कुछ सेवा प्रदाताओं के जरिये ग्राहकों के वासते एसएमएस सेवाओं का इसतेमाल करते हैं, बहरहाल, इनमें से किसी भी संदेश में कोई व्यक्तिगत जानकारी अथवा संवेदनशील सूचना नहीं थी।’’