RuPay कार्ड धारकों के लिए शानदार मौका, इस तरह पा सकेंगे 20% की इंस्टेंट छूट

RuPay कार्ड धारकों के...- India TV Paisa
Photo:FILE

RuPay कार्ड धारकों के लिए शानदार मौका, इस तरह पा सकेंगे 20% की इंस्टेंट छूट

डेबिट और क्रेडिट कार्ड पेमेंट के क्षेत्र में मास्टर और वीजा कार्ड को भारत सरकार के नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया यानि एनसीपीआई का RuPay कार्ड कड़ी टक्कर दे रहा है। आज देश की बड़ी जनसंख्या के पास RuPay कार्ड है। इस बीच RuPay कार्ड ने एक शानदार ऑफर पेश किया है, जिसके तहत आप शुक्रवार को RuPay कार्ड का इस्तेमाल कर 20% की छूट प्राप्त कर सकते हैं। 

RuPay कार्ड का यह ऑफर अमेजन पे बैलेंस में पैसा एड करने पर मिलेगा। इसकी मदद से आप अपने जरूरत का हर सामान RuPay कार्ड की मदद से सस्ते में खरीद सकते हैं। अमेजन पे बैलेंस पर पैसा एड करने पर ग्राहकों को 20% की छूट मिलेगी। यहां अधिकतम छूट की राशि 100 रुपये होगी। यानि आप 20 प्रतिशत की छूट अधिकतम 100 रुपये तक ही प्राप्त कर सकते हैं। बता दें कि यह छूट सिर्फ शुक्रवार को पैसा एड करने पर ही मिलेगा। 

कैशलेस इलाज सुविधा नहीं तो होगी कार्रवाई

देश इस समय कोरोना की दूसरी लहर के बीच गंभीर संकट का सामना कर रहा है। देश के अस्पताल मरीजों से अटे पड़े हैं। इस बीच ऑक्सीजन और दवाओं की कमी के चलते स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई हैं। कोरोन के चलते अस्पताल भी मरीजों से मोटी फीस वसूल रहे हैं। दूसरी ओर बीमा कंपनियां मरीजों को कैशलैस हेल्थ इंश्योरेंस का लाभ भी नहीं दे रही हैं। इन शिकायतों के सामने आने के बाद भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने बीमा कंपनियों को सख्‍त निर्देश जारी किए हैं। केंद्रीय वित्‍त मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि IRDAI ने निर्देश दिए हैं कि जहां बीमाकर्ताओं के पास कैशलेस इलाज की सुविधा प्रदान करने के लिए अस्पतालों के साथ व्यवस्था है ऐसे नेटवर्क कैशलेस इलाज मुहैया कराने के लिए बाध्य हैं। 

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को इरडा के चेयरमैन एससी खुंटिया से बात की थी और इन शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई करने को कहा था। केंद्रीय वित्‍त मंत्री ने इरडा के चेयरमैन से बीमा कंपनियों द्वारा कैशलेस इलाज के दावों को खारिज करने की शिकायतों पर उचित आदेश जारी करने का सुझाव दिया था। इसके बाद इरडा ने बीमा कंपनियों से कोरोना मरीजों के बीमा दावों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने को कहा था