Two Wheeler Loan: स्कूटर या बाइक खरीदने की है प्लानिंग? इन तरीकों से आपको झटपट मिलेगा व्हीकल लोन

Two Wheeler Loan- India TV Paisa
Photo:FILE

Two Wheeler Loan

Two Wheeler Loan: आपको रोजाना दफ्तर या कॉलेज जाना हो, या फिर भीड़ भरे बाजार में शॉपिंग करनी हो, भारतीय सड़कों पर दोपहिया वाहन आपका हमेशा से सच्चा साथी रहा है। न जाम का झंझट और न ही पार्किंग की टेंशन, बस बेकिक्र होकर आप झटपट सारा काम निपटा सकते हैं। वहीं पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच स्कूटर या बाइक का सफर आपकी जेब के लिए भी काफी किफायती पड़ता है। 

यही कारण है कि कोराना के बाद से लोग जमकर दोपहिया खरीद रहे हैं। आज बाजार में एनबीएफसी और बैंकों द्वारा आसान फाइनेंस स्कीम भी प्रदान की जा रही है, लेकिन अक्सर कुछ छोटी चूक करने के ​कारण लोगों को बैंक से लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट होने के झंझट का सामना करना पड़ता है। आइए जानते हैं उन टिप्स के बारे में जिनकी मदद से आपका लोन एक बार में ही पास हो जाएगा। 

सही डिटेल भरें

ऋण आवेदन की प्रक्रिया अपनी डिटेल भरने के साथ शुरू होती है। बैंक या एनबीएफसी आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी तरह से डिटेल भरने को कह सकते हैं। यह काम आपको आसान लग सकता है लेकिन फॉर्म भरने की जल्दबाजी में आपकी एक छोटी सी त्रुटि पूरी प्रक्रिया में देरी कर सकती है। इसलिए विवरण दर्ज करते समय सावधान रहें।

पात्रता मानदंड

यह पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम है जो दोपहिया वाहन ऋण को तुरंत स्वीकार करने के लिए करने के लिए सबसे जरूरी है। आवेदक की पात्रता की जांच करने के लिए विभिन्न उधारदाताओं के पास अलग-अलग मानदंड हैं।

यहां आमतौर पर स्वीकृत पात्रता आवश्यकताएं दी गई हैं;

  • निवास – आपके पास एक स्थाई आवासीय पता होना चाहिए और न्यूनतम 12 महीने की अवधि के लिए भारत का नागरिक भी होना चाहिए।
  • आयु सीमा – ऋण के लिए आवेदन करते समय आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष और ऋण परिपक्वता के समय अधिकतम 65 वर्ष होनी चाहिए।
  • सिबिल स्कोर – आपको आसानी से लोन हासिल करने के लिए 650 से अधिक का सिबिल स्कोर अच्छा माना जाता है
  • रोजगार की स्थिति – स्थिर रोजगार की स्थिति या यदि आप स्वरोजगार कर रहे हैं, तो आपकी कंपनी का आईटी रिटर्न ऋणदाता के सामने प्रस्तुत किया जाना चाहिए।

काम में आने वाले दस्तावेज़

केवाईसी प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए, आपको दस्तावेज़ों को संभाल कर रखना चाहिए। इन दस्तावेजों में पहचान सत्यापन उद्देश्यों के लिए आईडी और पते का प्रमाण, इसी तरह वेतन पर्ची, आईटी रिटर्न और आपकी नियमित आय को प्रमाणित करने के लिए बैंक विवरण शामिल हैं।

ईएमआई की गणना करें

यदि आप पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं, तो अगला कदम उस राशि की गणना करना होना चाहिए जिसे हर महीने ईएमआई के लिए भुगतान करना होगा। अवधि, मूल राशि और ब्याज दर के आधार पर ईएमआई का अनुमान लगाने के लिए इसे ईएमआई कैलकुलेटर द्वारा ऑनलाइन एक्सेस किया जा सकता है।